Kidney को सबसे ज्यादा डैमेज करती हैं आपकी ये आदतें

रोजमर्रा की हमारी कई ऐसी आदते हैं, जो किडनी (Kidney) को बेहद नुकसान पहुंचाती हैं. आपकी खराब लाइफस्टाइल से लेकर डाइट (Diet) इन सब बातों का असर किडनी पर पड़ता है. इससे क्रोनिक ​किडनी डिजीज (Chronic Kidney Disease) से लेकर किडनी के पूरी तरह डैमेज होने का खतरा रहता है, इसलिए जानें वो कौन सी आदतें हैं जिन्हें आपको तुरंत बदल देना चाहिए.

अधिक मात्रा में नमक, चीनी और प्रोसेस्ड फूड

नमक का अधिक मात्रा में सेवन किडनी रोगों के खतरे को बढ़ा देता है, इसलिए दिनभर में नमक की सीमित मात्रा ही लें, एक चम्मच से ज्यादा नमक न खाएं.

ज्यादा मात्रा में चीनी खाते हैं, तो इससे मोटोपे, हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज की समस्या हो सकती है. इससे किडनी से जुड़ी बीमारियों का खतरा रहता है. अतिरिक्त चीनी का सेवन न करें और मीठी चीजें कम मात्रा में खाएं.

प्रोसेस्ड फूड में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है. ये आपकी किडनी को नुकसान पहुंचाता है. वहीं अगर आपको पहले से ही किडनी से जुड़ी कोई बीमारी है, तो प्रोसेस्ड फूड से पूरी तरह परहेज करें.

एक्टिव न रहना

अगर आप एक्टिव नहीं हैं और बहुत देर तक एक ही जगह पर बैठे रहते हैं, तो ये भी आपकी किडनी को नुकसान पहुंचाता है. डेली एक्टिविटी से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद मिलती है और मेटाबॉलिज्म के लिए भी ये अच्छा है. इससे किडनी हेल्दी रहती है.

​पर्याप्त नींद न लेना

किडनी को स्वस्थ रखने के लिए अच्छी नींद लेना भी बेहद जरूरी है. किडनी फंक्शन को स्लीप वॉक साइकिल से रेगुलेट किया जाता है, इसलिए डाइट के साथ नींद का भी ध्यान रखें.

कम पानी पीना

किडनी ब्लड को साफ करके शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने में मदद करती है. किडनी रोगों से बचने के लिए जरूरी है कि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं. कम मात्रा में पानी पीने से कई तरह के किडनी रोगों का खतरा रहता है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर आपको पहले से किडनी से जुड़ी कोई समस्या नहीं है, तो रोजना तीन से चार लीटर पानी पीएं.

अधिक मात्रा में मीट का सेवन

एनिमल प्रोटीन ब्लड में उच्च मात्रा में एसिड पैदा करता है. इससे किडनी को नुकसान पहुंचता है. इससे एसिडोसिस की समस्या हो सकती है, जिसमें किडनी एसिड को तेजी से खत्म नहीं कर पाती है.

स्मोकिंग और अल्कोहल

स्मोकिंग से न सिर्फ फेफड़ों को नुकसान पहुंचता है, बल्कि ये आपके लिवर और किडनी के लिए भी बेहद नुकसानदायक है. डॉक्टरों के मुताबिक, स्मोकिंग करने वाले लोगों के यूरिन में प्रोटीन होने की संभावना ज्यादा होती है, जो किडनी के खराब होने का एक लक्षण हो सकता है.

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, शराब का सेवन महीने या 15 दिन में एक बार कम मात्रा में ​किया जाए तो इससे ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचता, लेकिन अगर आप नियमित रूप से अल्कोहल का सेवन करते हैं, तो इससे क्रोनिक किडनी डिजीज का खतरा रहता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *